कोल इंडिया के कई अफसरों का टूटा जीएम बनने का सपना

झारखंड
Spread the love

रांची। कोल इंडिया के कई अधिकारियों के जीएम बनने का सपना फिलहाल टूट गया है। काफी दिनों से अफसर इसकी उम्मीद कर रहे थे। इससे अफसरों में निराशा छा गई है।

जानकारी हो कि कोल इंडिया माइनिंग वेस्ड कंपनी है। यहां सबसे ज्यादा करियर ग्रोथ माइनिंग संवर्ग का होता है। कई पदों पर प्रमोशन के लिए इंटरव्यू की प्रक्रिया अपनाई जाती है। इसके तहत फर्स्ट क्लास माइनिंग संवर्ग के अफसरों को प्रोन्नति देने की प्रक्रिया चल रही थी।

अधिकारियों को ई-7 से ई-8 ग्रेड में प्रोन्नति दी जानी थी। इसकी सारी प्रक्रिया पूरी कर ली गई थी। प्रोन्नति देने के लिए इंटरव्यू 16 और 17 दिसंबर को होनी थी। इसकी जानकारी विभाग की ओर से 12 दिसंबर को दी गई थी।

इस बीच 15 दिसंबर को एक नोटिस जारी कर बताया गया कि 15 और 16 दिसंबर को प्रमोशन के लिए होने वाली इंटरव्यू स्थगित कर दी गई है। अगले आदेश तक इस पर रोक लगाई गई है। इसका नोटिस चीफ जनरल मैनेजर एसवी रविंद्रनाथ जारी किया था।

इंटरव्यू स्थगित किए जाने की सूचना मिलते ही इस सूची में शामिल अफसरों में निराशा का भाव छा गया। जीएम बनने के बाद कोयला अफसर कोल इंडिया में ईडी, डायरेक्टर और सीएमडी बन सकते हैं।

पहले जीएम बन जाने पर लंबे समय तक उनके इस पद पर रहने की संभावना बनी रहती है। इसके अलावा वेतन, ग्रेच्‍यूटी, पेंशन, लिव इनकैशमेंट सहित कई तरह के आर्थिक लाभ भी मिले हैं। मान-सम्‍मान में भी बढ़ोतरी होती है।