ब्रेकिंगः दुष्कर्म पीड़िता के सुसाइड मामले में पूर्व आईपीएस अमिताभ ठाकुर गिरफ्तार, जानें पूरा मामला

अपराध उत्तर प्रदेश मुख्य समाचार
Spread the love

बड़ी खबर लखनऊ से आयी है। दुष्कर्म पीड़िता की आत्महत्या के मामले में पूर्व आईपीएस अमिताभ ठाकुर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। एसआईटी जांच की रिपोर्ट के आधार पर पुलिस ने यह कार्रवाई की है। पीड़िता ने मुख्तार अंसारी की शह पर दुष्कर्म के आरोपी अतुल राय को बचाने के लिए आपराधिक षड्यंत्र रचने का आरोप लगाया था।

बता दें कि वाराणसी में अपने ऊपर दर्ज मुकदमे को लेकर आत्मदाह करने वाली दुष्कर्म पीड़िता के मामले में गुरुवार को जांच समिति ने रिटायर्ड आईपीएस अमिताभ ठाकुर और वाराणसी के एसएसपी रहे अमित पाठक के दोबारा बयान लिए थे। अमिताभ ठाकुर को जांच समिति द्वारा मुहैया कराये गये दस्तावेजों के जवाब में अपना बयान दर्ज कराना था, जबकि अमित पाठक से कुछ बिंदुओं पर जांच समिति ने जवाब मांगा था। इसके अलावा वाराणसी के भेलूपुर में पूर्व में जांच अधिकारी रहे सुधीर जायसवाल को भी बयान दर्ज कराने के लिए जांच समिति ने गुरुवार को बुलाया था। उन्होंने भी अपना बयान दर्ज करा दिया है। अब जांच समिति वाराणसी जायेगी और वहां इस केस से जुड़े लोगों के बयान लेगी।

यहां बता दें कि मऊ के सांसद पर दुष्कर्म का आरोप लगाने वाली युवती के खिलाफ वाराणसी के लंका थाने में न्यायालय के आदेश पर फर्जीवाड़े का केस दर्ज किया गया था। इसी केस में युवती के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी हुआ था, जिसे लेकर महिला ने पूर्व अधिकारियों पर आरोप लगाते हुए सुप्रीम कोर्ट के सामने अपने साथ एक युवक को लेकर आत्मदाह कर लिया था।

बता दें कि मऊ जिले की घोसी लोकसभा सीट से बहुजन समाज पार्टी (बसपा) सांसद अतुल राय के खिलाफ बलिया की रहने वाली पीड़िता ने एक मई 2019 को वाराणसी के लंका थाने में दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज कराया था। वाराणसी के एक कॉलेज की छात्रा रह चुकी पीड़िता का आरोप है कि अतुल राय ने सात मार्च 2018 को उसे लंका स्थित अपने फ्लैट में पत्नी से मिलाने के बहाने बुलाया था। वहां पहुंचने पर उसके साथ दुष्कर्म किया गया और अश्लील वीडियो भी बना लिया था।