बाहर का नजारा देखकर लोगों के उड़े होश, भगवान का किया शुक्रिया, जानें पूरा मामला

झारखंड
Spread the love

प्रशांत अंबष्‍ठ

बोकारो। सुबह लोगों ने देखा तो उनके होश उड़ गये। सभी ने घटना रात घटने के लिए भगवान का शुक्रिया कहा। उनका कहना था कि घटना दिन में होती तो कई लोगों की जान चली गई होती।

यह मामला सीसीएल कथारा क्षेत्र के अंतर्गत बांध कॉलोनी का है। कालोनी में सीसीएल द्वारा सैकड़ों आवास पूर्व में बनाए गए थे। इसमें बी टाइप, माइनस टाइप तथा डबल स्टोरी क्वार्टर हैं। आज भी सैकड़ों की संख्या में सीसीएलकर्मी उपरोक्त आवास में है। माइंस के विस्तारीकरण को लेकर दहिया बस्ती से पुनर्वास हुए लोगों को बांध कॉलोनी में बसाया गया है। पिछले 10 वर्षों से आवासों की स्थिति जर्जर हालत में है। आवास का मरम्मत नहीं किया जा रहा है।

स्‍थानीय लोगों के मुताबिक डबल स्टोरी क्‍वार्टर की गैलरी अचानक रात में गिर गई। रात में लोगों के घर के भीतर होने के कारण कोई अप्रिय घटना नहीं हुआ। अगर दिन में यह घटना घटी होती तो कई लोगों की जान चली गई होती। लोगों के मुताबिक दर्जनों आवास की स्थिति ऐसी है। वहां कभी भी बड़ा हादसा हो सकता है। प्रबंधन के जल्‍द कोई कदम नहीं उठाने पर स्थिति भयावह हो सकती है। लोगों की जान जा सकती है।

राष्ट्रीय कोलियरी मजदूर संघ ने कहा कि जल्‍द आवासों की मरम्मत और रखरखाव करने की आवश्यकता है। अगर प्रबंधन सचेत नहीं हुआ तो निश्चित रूप से बड़ा हादसा हो सकता है। इसकी जवाबदेही स्थानीय प्रबंधन की होगी। संघ के सदस्‍यों ने कथारा वाशरी के परियोजना पदाधिकारी, स्टाफ ऑफिसर (सिविल), स्टाफ ऑफिसर (सेफ्टी) सहित कथारा के महाप्रबंधक से अति शीघ्र आवासों की मरम्मत कराने की मांग की है।