मंत्री आलमगीर आलम के पीएस संजीव लाल और सहयोगी जहांगीर की रिमांड इतने दिन और बढ़ी

झारखंड अपराध
Spread the love

रांची। झारखंड में चंपाई सोरेन सरकार के ग्रामीण विकास मंत्री के पीएस संजीव लाल और उनके नौकर जहांगीर की रिमांड को कोर्ट ने पांच दिन और बढ़ा दिया है। ईडी ने कोर्ट में दोनों की रिमांड की मांग की थी, जिसे कोर्ट ने स्वीकार कर पांच दिन और बढ़ा दिया है। इन दोनों की रिमांड 13 मई को समाप्त होने वाली थी। ईडी ने दोनों को मनी लांड्रिंग के आरोप में गिरफ्तार किया था।

बता दें कि, ग्रामीण विकास मंत्री आलमगीर आलम के पीएस संजीव लाल और उसके नौकर जहांगीर को ईडी ने 16 घंटों की लंबी पूछताछ के बाद गिरफ्तार कर लिया था। ईडी ने इन दोनों के ठिकाने पर छापेमारी कर 35 करोड़ से अधिक की राशि जब्त की थी।

गिरफ्तारी के बाद जब ईडी संजीव लाल को झारखंड सचिवालय में उसके कार्यालय कक्ष लेकर गई थी, तो ईडी ने वहां से भी 2 लाख रुपये जब्त किया था। ईडी ने कैश कांड में संजीव लाल की पत्नी से भी पूछताछ की है। आपको बता दें कि, संजीव लाल झारखंड प्रशासनिक सेवा का अधिकारी है और उसे झारखंड सरकार के कार्मिक विभाग ने निलंबित कर दिया है।

ईडी ने झारखंड सरकार में मंत्री आलमगीर आलम को 14 मई को कैश कांड मामले की पूछताछ के लिए बुलाया है। संजीव लाल आलमगीर आलम का ही पीएस है, जिसके ठिकानों से ईडी ने करोड़ों की कैश बरामदगी की है। उसे ईडी के जोनल कार्यालय, रांची में पेश होने को कहा गया है। आपको बता दें कि, आलमगीर आलम पाकुड़ विधानसभा सीट से विधायक हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *