छात्रवृत्ति का पैसा हर बच्चे के खाते में जा रहा है, इसकी डीसी ने मांगी ग्राउंड रिपोर्ट

झारखंड
Spread the love

  • मुख्यमंत्री पशुधन विकास योजना की राशि का उपयोग अन्य कार्यों में करनेवालों को चिन्हित कर कार्रवाई करने के निर्देश

रांची। छात्रवृत्ति का पैसा हर बच्चे के खाते में जा रहा है। इसकी ग्राउंड रिपोर्ट रांची उपायुक्‍त राहुल कुमार सिन्‍हा ने मांगी है। उन्‍होंने मुख्यमंत्री पशुधन विकास योजना के तहत प्राप्त राशि का उपयोग अन्य कार्यों में करनेवालों को चिन्हित कर कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। उपायुक्‍त 20 जनवरी, 2023 को कल्याण विभाग की योजनाओं की समीक्षा कर रहे थे।

एकलव्य आवासीय विद्यालय की समीक्षा

बैठक में उपायुक्त द्वारा सबसे पहले जिला अंतर्गत एकलव्य आवासीय विद्यालय के संबंध में समीक्षा की गयी। अंचलवार एकलव्य आवासीय विद्यालय के लिए अधियाचित भूमि और उपलब्ध करायी गयी भूमि की जानकारी ली। उपायुक्त ने संबंधित अंचल अधिकारी को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। उपायुक्त द्वारा एकलव्य आवासीय विद्यालय के निर्माण के लिए भूमि संबंधी मामलों में यथाशीघ्र आवश्यक प्रक्रिया पूरी करने के आदेश दिए गए।

छात्रवृत्ति योजना की जानकारी ली

उपायुक्त द्वारा प्री मैट्रिक (प्राथमिक/मध्य उच्च विद्यालय), पोस्टमैट्रिक, अल्पसंख्यक छात्रवृत्ति योजना की समीक्षा की गयी। जिला कल्याण पदाधिकारी द्वारा बताया गया कि अब तक पोर्टल में लगभग 1 लाख 62 हजार इंट्री की जा चुकी है। उपायुक्त ने सभी प्रखंड कल्याण पदाधिकारियों को आदेश देते हुए कहा कि ग्राउंड लेवल पर हर बच्चे के खाते में पैसा जा रहा है या नहीं, इसकी जांच करें और रिपोर्ट दें। उन्होंने कहा कि अभिभावकों के बैंक खाते में बच्चों की छात्रवृत्ति की राशि जा रही है, इसकी भी रिपोर्ट तैयार करें। उपायुक्त ने पोस्टमैट्रिक, अल्पसंख्यक छात्रवृत्ति योजना के लिए संस्था की जांच करने के भी निर्देश दिये।

लाभुकों के बीच पशु वितरण पर ध्‍यान दें

मुख्यमंत्री पशुधन विकास योजना की समीक्षा करते हुए उपायुक्त ने चयनित लाभुकों के बीच पशु वितरण में संबंधित पदधिकारी को ध्यान देने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि इसमें कोई कमी नहीं होनी चाहिए। पशुधन विकास योजना के तहत प्राप्त राशि का उपयोग अन्य कार्यों में करनेवालों को चिन्हित कर उपायुक्त ने सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि पशुधन विकास योजना के तहत राशि लेकर लाभुक कोई और वस्तु खरीद लेते हैं तो ऐसे लोगों की पहचान कर प्राथमिकी दर्ज करें। साथ ही उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री पशुधन योजना में रांची जिला को बेस्ट परफॉरमेंस देना है, पदाधिकारी इस मानसिकता के साथ कार्य करें।

बैठक में मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना, अत्याचार निवारण अधिनियम एवं वन अधिकार आदि की समीक्षा करते हुए उपायुक्त ने संबंधित पदाधिकारी को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये।

बैठक में ये अधिकारी थे मौजूद

समाहरणालय स्थित उपायुक्त सभागार में आयोजित बैठक में रांची के अपर समाहर्ता राजेश बरवार, परियोजना निदेशक आईटीडीए सुधीर बाड़ा, जिला कल्याण पदाधिकारी श्रीमती संगीता शरण, कार्यपालक अभियंता सह प्रबंधक (जेएसबीसीसीएल), कार्यपालक अभियंता, (एनआरईपी-1) और अंचल अधिकारी, तमाड़, अनगड़ा, मांडर एवं विभिन्न प्रखण्ड कल्याण पदाधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *