Coal India : कोल इंडिया को मिला 780 एमटी उत्‍पादन करने का लक्ष्‍य

नई दिल्ली देश बिज़नेस
Spread the love

  • कोयला मंत्रालय की 1 बिलियन टन उत्पादन करने की योजना

नई दिल्‍ली। कोयला मंत्रालय ने चालू वित्तीय वर्ष 2023-24 के दौरान कोयले के 1 बिलियन टन से अधिक के उत्पादन का लक्ष्य निर्धारित किया है। इसे हासिल करने के लिए कोयला सचिव अमृतलाल मीना ने सभी कोयला कंपनियों के साथ गहन समीक्षा की है।

कोल इंडिया के लिए 780 मिलियन टन (एमटी), सिंगरेनी कोलियरीज़ कंपनी लिमिटेड के लिए 75 एमटी और कैप्टिव और वाणिज्यिक खानों के लिए 162 एमटी का लक्ष्य निर्धारित करने का निर्णय लिया गया है। सीआईएल में 290 खानें परिचालन में हैं। इनमें से 97 खानें प्रति वर्ष एक मिलियन टन से अधिक का उत्पादन करती हैं।

ऐसी सभी 97 कोयला खानों के लिए भूमि अधिग्रहण, वन मंजूरी, पर्यावरण मंजूरी, रेल संपर्क और सड़क संपर्क पर चर्चा की गई। इनके लिए समय-सीमाएं तय की गई है। उल्लेखनीय है कि कोयला कंपनियों के निरंतर प्रयास से 97 कोयला खानों में से 56 खानों के संदर्भ में कोई भी मामला लंबित नहीं है। केवल 41 खानों में 61 मुद्दे हैं, जिनके लिए कोयला कंपनियों के शीर्ष प्रबंधन द्वारा संबंधित राज्य सरकार प्राधिकरणों और केंद्रीय मंत्रालयों के साथ निरंतर समन्वय और निगरानी की जा रही है।

जानकारी हो कि कोल इंडिया ने वर्ष 2021-22 के दौरान 622 एमटी का उत्पादन किया है। वर्ष 2022-23 के लिए 16 प्रतिशत से अधिक की वृद्धि दर्ज करते हुए अब तक 513 एमटी का उत्पादन किया जा चुका है। उम्मीद की जा रही है कि कोल इंडिया चालू वित्त वर्ष के लिए निर्धारित 700 एमटी के लक्ष्य को पार कर जाएगी। तदनुसार वर्ष 2023-24 के लिए 780 एमटी का लक्ष्य हासिल कर लेगी।