कलाम अंसारी को अपंग बनाने का आरोपी पांच माह बाद भी पुलिस गिरफ्त से बाहर

झारखंड अपराध
Spread the love

अनगड़ा (रांची)। कलाम अंसारी को अपंग बनाने का आरोपी पांच माह बाद भी पुलिस की पकड़ से बाहर है। पुलिस ने इस मामले का खुलासा 23 जनवरी को किया था। इस घटना में छापामारी कर पांच माह पूर्व सिकिदिरी थाना क्षेत्र के उप मुखिया नवागढ़ ग्राम निवासी तारकेश्वर सिंह को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। घटना के मुख्य षड्यंत्रकर्ता एवं ओरमांझी प्रखंड के पूर्व उप प्रमुख मुंतजिर अहमद अभी तक पुलिस के गिरफ्त से बाहर है।

मालूम हो कि 27 सितंबर, 2022 को हत्या की नियत से कलाम अंसारी का योजनाबद्ध तरीके से अपहरण कर लिया गया। फिर उसके दोनों पैर को बुरी तरह काटकर बेरहमी से काटा गया। बाद में घटना को छिपाने के मकसद से अभियुक्तों ने बड़ी चतुराई के साथ उसके हाथ पैर बांधकर रेलवे ट्रैक में फेक दिया गया। कलाम ने किसी तरह ट्रैक से हटकर अपनी जान बचाई थी।

इस घटना को लेकर अनगड़ा थाना में प्राथमिकी दर्ज किया गया था। बाद में कलाम अंसारी ने न्यायालय के समक्ष 164 के तहत बयान दर्ज कर मुंतजिर अहमद रजा एवं तारकेश्वर सिंह को मुख्य आरोपी एवं साजिशकर्ता बताया था। पुलिस द्वारा मामले का खुलासा करते हुए एक आरोपी उप मुखिया को दबोचा गया। मुख्य आरोपी व साजिशकर्ता ओरमांझी प्रखंड के पूर्व उप प्रमुख मुंतजिर अहमद रजा को पकड़ने के लिए सघन तलाशी अभियान चला रही है। हालांकि वह पुलिस की गिरफ्त से अभी तक बाहर है।

अपंग होकर कलाम अंसारी जीवन यापन को बेबस न्याय के लिए दर-दर भटक रहा है। पीड़ित कलाम अंसारी और उसके परिवार वालों को अभियुक्तों द्वारा बार-बार गवाहों को प्रभावित करने के लिए डराया और धमकाया जा रहा है। इस संबंध में रांची एसएसपी, ग्रामीण आरक्षी अधीक्षक, सिकिदरी थाना प्रभारी और मुख्यमंत्री कल्याण कोषांक को लिखित आवेदन दिया जा चुका है। हालांकि अब तक कोई ठोस कार्रवाई पुलिस प्रशासन ने नहीं की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *