खान पर्यटन को बढ़ावा दे रहा कोयला मंत्रालय, आठ इको-पार्क बने, अगले साल दो और बनेंगे

नई दिल्ली देश
Spread the love

नई दिल्‍ली। कोयला मंत्रालय पुनर्प्राप्त भूमि पर इको-पार्क विकसित करने और खान पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए प्रयासरत है। इसके तहत देश के विभिन्न हिस्सों में 8 इको-पार्क बनाए गए हैं। ऐसे दो और पार्क 2022-23 तक पूरे हो जाएंगे।

केंद्रीय कोयला, खान मंत्री प्रल्हाद जोशी ने अक्टूबर, 2022 में डब्ल्यूसीएल के झुरे/बाल गंगाधर तिलक इको-पार्क का उद्घाटन किया था। एनएलसीआईएल ने खान-I और खान-II में इको-पर्यटन को बढ़ावा देने और सतत खनन गतिविधियों को प्रदर्शित करने के लिए हाल ही में पांडिचेरी पर्यटन विकास निगम (पीटीडीसी) के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए हैं।

सिंगरौली इको-पर्यटन सर्किट को प्रोत्साहन देने के लिए एनसीएल और मध्य प्रदेश पर्यटन बोर्ड के बीच एमओयू और डब्ल्यूसीएल द्वारा महाराष्ट्र के पर्यटन निदेशालय के साथ एक अन्य एमओयू भी कोयला क्षेत्र में इको-पर्यटन को बढ़ावा देंगे।

सतत विकास और हरित पहल के अनुरूप कोयला/लिग्नाइट पीएसयू ने इस वर्ष जनवरी से नवंबर तक 2300 हेक्टेयर भूमि पर लगभग 47 लाख पौधे लगाए हैं।