सीसीएल के कामगारों को मिला बकाया 50 लाख रुपये OT

झारखंड
Spread the love

रामगढ़। सीसीएल के कामगारों को 50 लाख रुपये बकाया OT का भुगतान कर दिया गया है। पैसा कामगारों के खाते में आ गया है। यह राशि पिछले पांच साल से बकाया थी। इसके भुगतान की लड़ाई राष्‍ट्रीय कोयला मजदूर यूनियन (आरकेएमयू) लड़ रही थी।

यूनियन के रजरप्पा क्षेत्र के सचिव रमेश विश्‍वकर्मा ने बताया कि जिन कर्मचारियों का मार्च 2017 का बकाया OT था, उसका भुगतान रजरप्पा क्षेत्र प्रबंधन द्वारा 2 नवंबर, 2022 को कामगारों के बैक खाता में कर दिया गया है। इससे रजरप्पा क्षेत्र में कार्यरत 803 कामगारों को करीब 50 लाख रुपये मिला।

जानकारी हो कि इस मामले में 9 सितंबर, 2022 को धनबाद स्थित उप मुख्य श्रमायुक्त (केंद्रीय) आनंद कुमार के श्रम न्यायालय में सीसीएल रजरप्पा क्षेत्र के कार्मिक अधिकारी सुजीत कुमार गोस्वामी, सीसीएल मुख्यालय रांची के कार्मिक व औधोगिक संबंध के मुख्य प्रबंधक राजीव रंजन शर्मा और आरकेएमयू रजरप्पा क्षेत्र के सचिव रमेश विश्वकर्मा, अधयक्ष प्रदीप कुमार, संयुक्त सचिव धनेश्वर राम, कोषाध्यक्ष बालेश्वर शर्मा के बीच लिखित समझौता हुआ था।

समझौते के तहत वर्तमान सीसीएल कामगारों को तीन माह और सेवानिवृत्त एवं मृतक कामगारों के परिजनों को छह माह के अंदर बकाया ओवरटाइम का भुगतान करना था। इसमें रजरप्पा प्रोजेक्ट के 371, रजरप्पा वाशरी के 364 और रजरप्पा महाप्रबंधक शाखा के 68 कामगार शामिल हैं।

रमेश विश्‍वकर्मा ने बताया कि ओवरटाइम की बकाया राशि के भुगतान के लिए यूनियन वर्ष 2017 से ही आंदोलन करते आ रही थी। पांच साल के बाद सफलता मिली है। उन्‍होंने कामगारों को सहयोग के लिए बधाई दी।