बगैर किसी गारंटी सरकार दे रही है 50,000 रुपए का लोन, ऐसे करें अप्लाई

नई दिल्ली देश
Spread the love

नई दिल्ली। केंद्र की मोदी सरकार गरीबों का जीवन स्तर को उठाने के लिए प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना शुरू की है। इसके तहत आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय के तहत स्ट्रीट वेंडर्स के लिए यह योजना शुरू की गई है।

गरीब लोगों को किफायती ऋण प्रदान करने के लिए विशेष माइक्रो-क्रेडिट सुविधा योजना के तहत यह स्कीम शुरू की गई। इस योजना के तहत उन रेहड़ी-पटरी वालों को कवर किया जाता है, जिन पर कोरोना लॉकडाउन का सबसे अधिक असर हुआ था।

आमतौर पर रेहड़ी-पटरी पर काम करने वाले लोग अपनी जीविका चलने के लिए रोज कमाते-खाते हैं। ऐसे लोगों के पास ज्यादा सेविंग नहीं होती है। कोरोना काल में लॉकडाउन लगने के बाद ऐसे लोगों पर बहुत गहरा असर पड़ा।

केंद्र की मोदी सरकार ने ऐसे ही लोगों के उद्धार के लिए पीएम स्वनिधि योजना की शुरुआत की। स्वनिधि योजना के तहत रेहड़ी-पटरी वालों को बिना गारंटी के लोन मुहैया कराया जाता है।

इसमें उन्हें 10,000 रुपये से लेकर 50,000 रुपये तक का लोन दिया जाता है। यह बिना किसी गारंटी के दिया जाता है। यह लोन उन्हें बिजनेस बढ़ाने के लिए दिया जाता है। सबसे अच्छी बात यह है कि स्ट्रीट वेंडर्स इस लोन को बार-बार ले सकते हैं।

स्वनिधि योजना के तहत पहली बार 10,000 रुपये का लोन मिलता है। लोन लेने के बाद इसे एक साल में चुकाया जा सकता है। आप थोड़ा-थोड़ा अमाउंट देकर हर महीने थोड़ा-थोड़ा भुगतान कर सकते हैं। हालांकि इसमें 20000 और 50000 हजार तक के लोन का विकल्प भी है।

इस योजना में आवेदन करने के लिए किसी सरकारी बैंक में जाना होगा। पीएम स्वनिधि योजना का फॉर्म भरकर आधार कार्ड के साथ उसे जमा करना होगा।

मामूली जांच के बाद बैंक आमतौर पर लोन अप्रूव कर देता है। आपको बता दें कि इस योजना के रुपये किस्तों में मिलते हैं।