पटना एम्स में ऑपरेशन के दौरान महिला डॉक्टर के पेट में छूटी रूई, परिजनों ने किया हंगामा

देश बिहार
Spread the love

पटना। पटना एम्स में डॉक्टरों ने ऑपरेशन के दौरान महिला मरीज के पेट में रूई छोड़ दी। इस महिला की सर्जरी बीते वर्ष 2021 के सितंबर में हुई थी। ऑपरेशन के नौ महीने बाद जब महिला के पेट में दर्द उठा, तो अल्ट्रा साउंड कराया गया। जांच में पेट के अंदर रूई होने की बात सामने आयी। महिला का नाम पूजा कुमारी है और वह पटना के दानापुर स्थित सगुना मोड़ की रहने वाली है। वह खुद मसौढ़ी अनुमंडलीय अस्पताल में मेडिकल ऑफिसर के पद पर तैनात है।

बताया जा रहा है कि 14 सितंबर 2021 को पटना एम्स में उसकी डिलीवरी ऑपरेशन के जरिए हुई थी। एम्स के संबंधित विभाग की एचओडी और डीन डॉ हिमानी और उनकी टीम में महिला मरीज की डिलीवरी कराई थी। ऑपरेशन के 15 दिन बाद ही टांका पक गया, तो एम्स में इलाज के लिए पूजा दोबारा आयी थी। इस पर डॉ हिमानी ने फटकार लगाते हुए कहा था कि लापरवाही की वजह से टांका पक गया।

अब जब परेशानी बढ़ी और पेट में दर्द के साथ ब्लीडिंग की शिकायत हुई, तो आठ महीने बाद पूजा का अल्ट्रासाउंड कराया गया। पूजा के पेट में लगभग साढ़े 5 सेंटीमीटर की रूई मिली है। एम्स पहुंच इसकी जानकारी डॉक्टर को दी गई, तो यहां भी अल्ट्रासाउंड हुआ तो उसकी रिपोर्ट में भी पेट में रूई मिली। जांच रिपोर्ट को देखा गया, तो उसमें पेशाब के रास्ते और बच्चेदानी के बीच में जख्म जैसा कुछ बना हुआ दिखा।

इस घटना के बाद महिला डॉक्टर पूजा के परिजनों ने एम्स के प्रसूति रोग विभाग में जमकर हंगामा किया। विभागाध्यक्ष पर लापरवाही बरतने और मरीज की जान से खिलवाड़ करने का भी आरोप लगाया गया। इस मामले में डॉक्टर पूजा कुमारी ने फुलवारी थाने और एम्स प्रशासन में शिकायत करते हुए कार्रवाई की मांग की है।