पटना के डीएम ने इस वजह से सात अंचलाधिकारियों के वेतन पर लगाई रोक

देश बिहार
Spread the love

पटना। बिहार में लापरवाह पदाधिकारियों पर गाज गिरनी शुरू हो गयी है। पटना के डीएम डॉक्टर चंद्रशेखर सिंह ने दाखिल खारिज और परिमार्जन में लापरवाही करने वाले अंचलाधिकारियों के वेतन पर रोक लगा दी है। जिन अधिकारियों का वेतन रोका गया है, उनमें पटना सदर, फुलवारी शरीफ, धनरूआ, दानापुर, बिहटा, मनेर और संपतचक के अंचलाधिकारी शामिल हैं।

डीएम कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार इसमें से चार अंचल ऐसे हैं, जहां 80 फीसदी से कम दाखिल खारिज के मामलों का निपटारा हुआ है। पटना के डीएम डॉ. चंद्रशेखर सिंह के मुताबिक जिले में दाखिल खारिज के लिए 514539 आवेदन आये हैं, इनमें से 456539 आवेदन यानी 89 फ़ीसदी का निपटारा किया जा चुका है।

इसी तरह परिमार्जन के लिए 153304 आवेदन आये, इनमें से 123192 आवेदन यानी तकरीबन 81 फ़ीसदी का निपटारा किया जा चुका है। सात सीओ का वेतन रोके जाने के साथ-साथ पटना में एक शिक्षक को भी निलंबित किया गया है।