spot_img
spot_img
Homeझारखंडहजारीबाग के पूर्व सांसद के नाती का शव बरामद, सदर विधायक ने...

हजारीबाग के पूर्व सांसद के नाती का शव बरामद, सदर विधायक ने की उच्चस्तरीय जांच की मांग

हजारीबाग। हजारीबाग के पूर्व सांसद महावीर लाल विश्वकर्मा के नाती कटकमदाग थाना क्षेत्र के नवादा ग्राम निवासी केदार राणा के पुत्र अविनाश कुमार राणा उर्फ सोनू का शव शुक्रवार की शाम बड़कागांव रोड के शंकरपुर- नृसिंह स्थान रोड पर नदी में बने पुल के नीचे श्मशान घाट के समीप संदेहास्पद स्थिति में बरामद हुआ।

मृतक अविनाश कुमार राणा उर्फ सोनू बनादाग रेलवे साइडिंग स्थित एनटीपीसी के कांटा घर में कंप्यूटर ऑपरेटर का कार्य करता था। लेकिन पिछले दो महीने से यहां से उसका स्थानांतरण हजारीबाग रेलवे स्टेशन एनटीपीसी के कांटा घर में हुआ था। सोनू अपने नानी घर हजारीबाग शहर के नूरा से ड्यूटी आना-जाना करता था। गुरुवार को सोनू का ड्यूटी ऑफ था बावजूद इसके अपने नानी घर से ड्यूटी जाने की बात कह कर बाइक से निकला। लेकिन सोनू न तो ड्यूटी गया और न ही अपना घर नवादा गया। रात को घर नहीं लौटने पर परिजन परेशान हो गए और काफी खोजबीन के बाद मोबाइल लोकेशन के जरिए सोनू का शव संदेहास्पद स्थिति में प्राप्त हुआ।

इधर शव मिलने की सूचना से सोनू के गांव नवादा और आसपास के गांव के अलावा उसके नानी घर शहर के नूरा क्षेत्र से भी लोग यहां पहुंचने लगे और शव की संदेहास्पद स्थिति को देखकर हत्या की आशंका जताने लगे। इधर शव की सूचना मिलने पर पुलिस भी सक्रिय हुई और कटकमदाग थाना प्रभारी विपिन कुमार यादव एवं मुफस्सिल थाना प्रभारी बजरंगी महतो ने शव को कब्जे में लेकर पुलिसिया तफ्तीश शुरू कर दी। घटनास्थल पर हजारीबाग सदर विधायक मनीष जायसवाल के कटकमदाग विधायक प्रतिनिधि अजय कुमार साहू भी मौजूद रहे और मृतक के परिजनों को ढाढस बंधाया एवं यहां मौजूद पुलिस पदाधिकारियों से घटना की उच्च स्तरीय जांच की मांग की।

कटकमदाग विधायक प्रतिनिधि अजय साहू और ग्रामीणों ने शव का पोस्टमार्टम मेडिकल बोर्ड के जरिए कराने की भी मांग की। पुलिस भी शव को देखकर हत्या की आशंका जताते हुए इसी दिशा में जांच कर रही है और स्क्वायड डॉग का भी सहारा ले रही है। घटना स्थल से सोनू के शव के साथ उसका मोबाइल और बाइक भी बरामद हुई। शव के बगल में जहर की पुड़िया भी प्राप्त हुई। इससे हत्या की आशंका प्रबल हो रही है और कयास लगाया जा रहा है कि हत्यारों ने मामले को आत्महत्या की ओर भटकाने के लिए ऐसा किया है।

सोनू अविवाहित था और उसकी उम्र करीब 30 साल थी। वह तीन भाई और एक बहन में सबसे बड़ा था। इधर हजारीबाग सदर विधायक मनीष जायसवाल ने इस घटना पर गहरा शोक व्यक्त करते हुए मृतक के परिजनों से दूरभाष पर बात करके ढांढ़स बंधाया और निष्पक्ष जांच कराने का विश्वास जताया। विधायक मनीष जायसवाल ने इस नवयुवक की संदेहास्पद मौत पर हजारीबाग के वरीय पुलिस अधिकारियों से आग्रह किया है कि उसकी उच्च स्तरीय निष्पक्ष जांच कर मौत के रहस्य का जल्द खुलासा करें।

spot_img
- Advertisement -
Must Read
- Advertisement -
Related News